Read more about the article कर्मण्येवाधिकारस्ते मा फलेषु कदाचन
कर्मण्येवाधिकारस्ते मा फलेषु कदाचन

कर्मण्येवाधिकारस्ते मा फलेषु कदाचन

भगवद गीता का विश्व-प्रसिद्ध श्लोक “कर्मण्येवाधिकारस्ते मा फलेषु कदाचन” मनुष्य को कर्मयोग की उत्तम शिक्षा देता है। इस श्लोक का अर्थ बहुत व्यापक है जिसके द्वारा भगवान श्रीकृष्ण ने मनुष्यों…

Continue Readingकर्मण्येवाधिकारस्ते मा फलेषु कदाचन