You are currently viewing यूपीएससी और बीपीएससी परीक्षा की तैयारी

यूपीएससी और बीपीएससी परीक्षा की तैयारी

यूपीएससी(UPSC) और एसपीएससी(SPSC) की तैयारी हमेशा से युवाओं के आकर्षण का केंद्र रहा है | ब्रिटिशकालीन आईसीएस (ICS)से लेकर आईएएस (IAS) तक का सफर भारतीय नौकरशाही के इतिहास में अनेक बदलाव के दौर से गुजरा है | ब्रिटिश काल में परीक्षा की विशिष्ट प्रणाली से लेकर वर्तमान के सी -सैट (C-SAT) परीक्षा प्रणाली के युग तक भी अनेकों परिवर्तन होते रहें| यद्यपि इन अनेक दशकों में तमाम परिवर्तनों के बावजूद यूपीएससी (UPSC) की परीक्षा एवं मूल्यांकन की पद्धति विशिष्ट एवं गुप्त बनी रही | आयोग का मुलभुत उद्देश्य सर्वश्रेष्ठ का चयन करना एवं अयोग्य का चयन होने से रोकना भी है | हाल में दशकों में शिक्षा के व्यवसायीकरण से यूपीएससी और बीपीएससी के छात्र भी अछूते नहीं रहें है | कोचिंग संस्थानों के बाजारीकरण ने सिविल सेवा की तैयारी को व्यवसायिक सन्दर्भ दे दिया | देखते ही देखते कोचिंग संस्थानों का स्वरूप बाजार सा बन गया | संघ लोक सेवा आयोग एवं राज्य लोक सेवा आयोग को इन बाजारू उत्पाद से हमेशा परहेज रहा है | आयोग की मौलिक संकल्पना में किसी भी विश्वविद्यालय से स्नातक वैसे अभ्यर्थियों से रही है जो नैसर्गिक एवं स्वाभाविक गुणों से युक्त हो | आयोग द्वारा निर्धारित वैकल्पिक विषय का पाठ्यक्रम भी स्नातक या उससे थोड़ा ही ज्यादा रहा है |

सफलता का रहस्य
यूपीएससी अथवा बीपीएससी की तैयारी से पूर्व अभ्यर्थियों को स्वयं का आकलन इस आधार पर करना चाहिए कि वह सिविल सेवक क्यों बनना चाहता है ? प्रत्येक अभ्यर्थी की अभिरुचि एवं कैरियर चयन का विकल्प अत्यंत ही महत्वपूर्ण एवं गूढ़ होता है एवं विस्तृत विश्लेषण की मांग करता है | दुनिया के कई देशों में इसी परिप्रेक्ष्य में एप्टिट्यूड टेस्ट(Aptitude Test) सर्वाधिक महत्वपूर्ण मानी जाती है | यह मनुष्य के सामाजिक एवं जैविक विकास की प्रक्रिया से भी जुड़ा हुआ है| चुकि अभ्यर्थी भी एक मनुष्य है | अतः उसकी अभिरुचि, उसका व्यक्तित्व, उसके कार्य करने की क्षमता पृथक होना स्वाभाविक है| सिविल सेवक आप क्यों बनना चाहते हैं- सफलता की दृष्टि से सर्वाधिक महत्वपूर्ण प्रश्न है| विगत अनेक वर्षों के सेवा-अनुभव के आधार पर तैयार निम्न प्रश्नों का उत्तर दे:-
1 . सिविल सेवा आमजन की सेवा करने का एक अवसर है
2 . सिविल सेवा ज्वाइन करने के बाद अच्छी सैलरी मिलती है
3 . सिविल सेवा अच्छी सैलरी के साथ साथ धन कमाने का अवसर है
4 . सिविल सेवा के माध्यम से सामाजिक पहचान को बढ़ाया जा सकता है
5 . सिविल सेवा पद- प्रतिष्ठा प्राप्त करने का अवसर देती है
6 . सिविल सेवा की तैयारी कर मेरे कई मित्र सफल हो चुके हैं अतः मुझे भी इसका आकर्षण है
7 . मेरे पास और भी नौकरी के कई बेहतर विकल्प हैं यद्यपि सिविल सेवा के लिए प्रयास किया जा सकता है
8 . मैं हमेशा से प्रतिष्ठित एवं महत्वहीन रहा हूं यद्यपि इस पद को प्राप्त करते ही में अन्य से अत्यंत महत्वपूर्ण हो जाऊंगा
9 . सिविल सेवक को यथास्थिति पूर्ण वाली सामाजिक व्यवस्था में परिवर्तन करने का अवसर मिल सकता है
10 . मेरे परिवार वाले और मित्र चाहते हैं कि मैं सिविल सेवा की परीक्षा दू |

प्रश्नों का उत्तर हाँ (YES) या नहीं (NO) में ईमानदारी पूर्ण दे | प्रश्नो के उत्तर देते हुए आदर्शवादिता के बजाय व्यवहारिक होकर दे | मनुष्य स्वयं को जितना अच्छे से जानता है उतना संसार में दूसरा कोई नहीं | यद्यपि हम स्वयं के प्रति भी ईमानदार नहीं होते | उपरोक्त प्रश्नो के जबाब में यदि आपका हाँ (Yes) में उत्तर तीन से अधिक आता है तो आपको सिविल सेवा को कैरियर बनाने में विशेष सावधानी की जरुरत है | इन सभी प्रश्नो का उत्तर आप डिस्क्रिप्टिव टाइप (Descriptive type) में भी दे सकते है | प्रत्येक उत्तर अधिकतम पचास शब्दों की सीमा में दे सकते है | इन प्रश्नो का उत्तर सिविल सेवा को कैरियर विकल्प चयन से पूर्व अत्यंत ही महत्वपूर्ण है | आप इन उत्तर को किसी विशिष्ट अनुभवी व्यक्ति अथवा शिक्षक से दिखा सकते है | यदि आप चाहे तो वेबसाइट पर दिए ईमेल पर भी भेज मूल्यांकन करा सकते है जो पूर्णतः निःशुल्क है |

courtesy : google images

Leave a Reply